कान दर्द

कान दर्द से अगर घर में कोई परेशान है तो अभी अपनाइए ये घरेलू नुस्खे, तुरंत आराम मिलेगा

कान दर्द का घरेलू उपचार : मित्रों एक जमाना वो था जब हमारे देश में सयुंक्त परिवार प्रथा प्रचलित थी, उस समय घर के सभी बड़े-बूढों का हमें पूरा सहयोग होता था, इस प्रकार की कोई भी समस्या आने पर वो लोग तुरंत अपने अनुभव के पोटले में से निकालकर कोई ना कोई घरेलू नुस्खा दे देते थे, जिससे हमे तुरंत आराम आ जाता था.


लेकिन अब वक्त की मांग और तेज जीवन की आपाधापी के चलते एकल परिवार प्रथा जन्म ले चुकी है, जहाँ की तेज लाइफ में हमे हमारे लिए ही समय नहीं है तो बड़े-बूढों को अपने साथ कैसे सम्भाले, इसी कारण अब उनके वो अनुभवों की जादुई पोटली हमारे पास नही है, तो इसी समस्या का हल देते हुए मोना गुरु का हमेशा प्रयास होता है की बड़े-बूढों के अनुभव की वही बाते हम इन्टरनेट के माध्यम से ही आप तक पहुंचाते रहें, इसी कड़ी में आज उस अनुभवों की जादुई पोटली में से मोना गुरु आपके लिए कान के दर्द का इलाज लेकर आई है. कान में दर्द होने पर काफी परेशानी होती है। सर्दी-जुकाम या किसी और वजह से कान में दर्द हो सकता है। कई बार तो यह पीड़ा काफी हल्की होती है लेकिन कई बार इससे काफी तेज दर्द होता है जिसे सहना मुश्किल हो जाता है। ऐसे में कुछ घरेलू उपाय अपनाकर इस समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है।



1. लहसुन
जब कान में तेज दर्द होने लगे तो लहसुन का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसमें मौजूद एंटीबायोटिक और एंटीसेप्टिक गुण कान दर्द की समस्या को दूर करता है। इसके लिए थोडे़-से सरसों के तेल में लहसुन की 2-3 कलियां डालकर गर्म करें और तेल जब ठंडा हो जाए तो 2-3 बूंदे कान में डाल लें।Benefits of Garlic in Ear pain

2. तुलसी का रस
इसके लिए तुलसी की कुछ पत्तियों को पीसकर उनका रस निकाल लें और दिन में 2-3 बार इसे कान में डालने से दर्द दूर होता है।

Benefits of Basil in Ear pain



3. नीम
कान दर्द होने पर नीम की पत्तियां भी काफी फायदेमंद होती हैं। इसके लिए नीम की कुछ पत्तियों को पीसकर उसका रस निकाल लें और उसकी 2-3 बूंदे कान में डालें। इसके अलावा नीम के तेल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

Benefits of Neem in Ear pain

4. प्याज
इसके लिए प्याज को कद्दूकस करके उसे एक पतले कपड़े में बांधकर पोटली बना लें और इसका रस निकाल लें। इस पोटली को रात को सोने से पहले कान के नीचे रखें। इससे कान दर्द में आराम मिलेगा।

Benefits of Onion in Ear pain



5. जैतून का तेल
जैतून का तेल बालों के लिए तो फायदेमंद होता ही है, इसके अलावा यह कान दर्द होने पर भी इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके लिए जैतून के तेल को हल्का गर्म करके 3-4 बूंदें कान में डालें।

Benefits of Olive oil in Ear Pain

इस बातों का भी रखें ख्याल
कई बार इस समस्या को दूर करने के लिए आप एंटी-इंफ्लेमेट्री दवाइयों का सेवन करते है, जो कि गलत है। कान में इंफैक्शन होने पर किसी भी दवाई को लेने से पहले डॉक्टर का परामर्श लें।
उपरोक्त घरेलू नुस्खे आजमाने के बाद भी यदि आराम नही आ रहा है तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करे.

उम्मीद है बड़े-बूढों के अनुभवों की इस पोटली से निकले ये इलाज आपको अच्छे लगे होगे, आप इन अनुभवों को फेसबुक और व्हाट्सएप्प पर शेयर करके आगे भी अपने मित्रों के साथ साझा कर सकते है, शेयरिंग हेतु आवश्यक लिंक नीचे दिए गये है.

“मोना-गुरु” हर महिला की वो आभासी (वर्चुअल) सहेली है ,जो रोजमर्रा की हर मुश्किल का आसान हल तो देती ही है साथ ही अपनी सखियों को घर-संसार से जुड़ी हर बातों में आगे भी बनाये रखती है.

जले बर्तन

जले बर्तन – अब कोई समस्या नही इन्हें साफ़ करना होगा बिलकुल आसान

जले बर्तन देखकर ही मन में कुढ़ छूटने लगती है, अब गया एक घंटा रगड़ते रहो बैठकर .. और अगर बाई के लिए छोड़ दिया तो अब सुनो उसकी किच-किच … है ना मित्रों बिलकुल सामान्य और रोजमर्रा की समस्या.


तो जैसा की आपसे हमेशा मोना-गुरु का वादा रहता है की हम अपने पाठको और दर्शकों के लिए नित्य ऐसी जानकारी लाने का प्रयास करते रहेंगे जो आपकी रोजमर्रा की समस्याओं को आसानी से सुलझाने में सहायक हो, तो इसी कड़ी में आज मोना गुरु आपके लिए लाई है जले हुए बर्तनों को साफ़ करने का सबसे आसान तरीका. इसको आप भी सीख लीजिये और अपनी घरेलू बाई को भी सिखा दीजिये, यकीन मानिए जले बर्तन को लेकर होने वाली सारी किच-किच से मुक्ति पा जायेंगी आप.



आइये बिलकुल भी देर नही करते हुए देखते है इस विडियो को और सीखते है जले बर्तन को साफ़ करने का सबसे आसान तरीका

अगर आपको ये जानकारी पसंद आई हो तो आप इसे फेसबुक और व्हाट्सएप्प पर शेयर करके आगे भी अपने मित्रों के साथ साझा कर सकते है,शेयरिंग के लिए आवश्यक लिंक नीचे दिए गये है.

 

पति पत्नी

पति पत्नी के प्यार के निजी पलो को और भी हसीन बना देगी ये 9 ट्रिक्स

पति-पत्नी के प्यार के पलो को हसीन बना देगी ये 9 ट्रिक्स

सुखद दांपत्य जीवन का आधार सफल सैक्स ही है और सैक्स यानी सहवास की सफलता पतिपत्नी दोनों पर निर्भर करती है. सैक्सोलौजिस्ट असफाक अंसारी का मानना है कि सफल सहवास तभी मुमकिन है जब आप के पति या पार्टनर आप को और्गेज्म तक पहुंचाएं. असफाक अंसारी कहते हैं कि पतिपत्नी दोनों ही चरम सुख प्राप्त कर सकें, इस के लिए एकदूसरे के प्रति आकर्षण, प्राइवेसी और मानसिक तौर पर तैयार होना जरूरी है.


जानते हैं प्यार के मीठे पलों के लिए जरूरी कुछ टिप्स:

1.एकदूसरे के प्रति आकर्षण
पतिपत्नी का एकदूसरे के प्रति आकर्षण ही कामोत्तेजना पैदा करता है, क्योंकि आकर्षण ही सहवास के लिए दोनों में उत्तेजना पैदा कर शरीर में स्थित सैक्स ग्रंथियों में हारमोंस के स्राव का कारण बनता है. कई स्त्रीपुरुषों में एकदूसरे के प्रति आकर्षण का अभाव होता है, तो कोईकोई पुरुष हर बार नई स्त्री के साथ सहवास करना चाहता है. उस के लिए उम्र, रंगरूप कोई माने नहीं रखता. वह बस सहवास को प्राथमिकता देता है. पतिपत्नी के बीच सैक्स सफलता की कमी ही उन की सैक्स लाइफ को कष्टमय बना देती है.

2.बैडरूम को सैक्सी लुक दें
सैक्सी मूड बनाने के लिए बैडरूम का सैक्सी लुक होना जरूरी है. बैडरूम में फूलों वाली बैडशीट बिछाएं, साटन के परदे लगाएं और उसे रंगीन गुलाबों से सजाएं और उस में कैंडल्स जलाएं. ऐसा माहौल आप को केवल रोमांटिक ही नहीं बनाएगा, बल्कि सैक्सुअल ऐनर्जी को बढ़ाने में मददगार होगा.


3.खुशबू से महकाएं तन
परफ्यूम की खुशबू सहवास क्रिया में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाती है. खुशबू से महकता हुआ स्त्रीपुरुष का शरीर सैक्स इच्छा को तीव्र ही नहीं करता, बल्कि कामोत्तेजना को भी बढ़ाता है. भावनात्मक रूप से भी पतिपत्नी एकदूसरे के नजदीक आते हैं. इस से सैक्स लाइफ आनंदमयी बन जाती है.

4.पहनें सैक्सी वस्त्र
सहवास को खास बनाने में सैक्सी वस्त्र अहम भूमिका निभाते हैं. पति को सरप्राइज देने के लिए सैक्सी इनरवियर पहनें. नाइटी भी रैड, गुलाबी, नीले रंग की चुनें. कामोत्तेजना बढ़ाने में सैक्सी वस्त्रों की अपनी अलग ही भूमिका होती है. ऐसा होने से पतिपत्नी दोनों ही चरम सुख को प्राप्त कर सकते हैं.


5.आलिंगन भी अहम
विवाह के बाद तनमन दोनों ही मिलते हैं. यही शारीरिक स्पर्श रिश्तों को मजबूती प्रदान करता है. कभीकभी काम की अधिकता की वजह से पतिपत्नी आलिंगन, चुंबन और सहवास करने का समय ही नहीं निकाल पाते हैं. सहवास के समय आलिंगन, स्पर्श, चुंबन को महसूस कर सफल सैक्स को अंजाम दिया जा सकता है.

6.भावनात्मक भी रहें
अकसर सैक्स क्रिया से पूर्व सुखद वातावरण बिना बनाए ही पति पत्नी से संबंध बनाने की चेष्टा करते हैं. जबकि भावनात्मक पहलू को सैक्स के दौरान और बाद में भी समझना चाहिए. पति पत्नी की आंखों में शर्म, प्यार और शब्दों में भावनात्मक प्यार ही चाहता है, तो पत्नी भी चाहती है कि पति उस के काम की प्रशंसा और सौंदर्य की सराहना करे. इस के साथसाथ दोनों एकदूसरे के यौन संबंधी स्वभाव की भिन्नता को जानते हुए भी एकदूसरे को कौपरेट करें.


7.जल्दबाजी ठीक नहीं
कई पति पत्नी को पूर्णरूप से सैक्स के लिए तैयार न कर के जल्दबाजी में सहवास करते हैं. जबकि उन्हें अपनी पत्नी को उस की मनोवृत्ति के अनुसार सैक्स में संतुष्ट करना चाहिए. पत्नी यदि विभिन्न रतिक्रियाओं से संतुष्ट होने वाली हो तो पति को उस पर भी ध्यान देना चाहिए.

8.सहवास से पहले
इस के अलावा सहवास से पहले स्पर्श, आलिंगन, चुंबन, मर्दन आदि कामक्रीडाओं से उत्तेजना को चरम सीमा पर पहुंचा कर ही सहवास करना चाहिए. पूर्ण संतुष्टि के लिए पतिपत्नी को लज्जा, भय, संकोच, अशांति को त्याग कर कामक्रीडा को अंजाम देना चाहिए.


9.तनाव न करें
सैक्स का मनमस्तिष्क से संबंध होता है. यदि मन में भय, चिंता, लोकलाज का भय हो तो कई बार प्रथम सहवास में पुरुष शीघ्रपतन का शिकार बन जाता है और थकान व तनाव की स्थिति में पतिपत्नी दोनों ही सफल सहवास करने और सैक्स का आनंद उठाने से वंचित रह जाते हैं. दांपत्य जीवन में सैक्स सुख सही तालमेल और प्रसन्न रहने से ही प्राप्त होता है.

मित्रों आपको अगर मोना गुरु का ये लेख अच्छा लगा हो तो आप इसे फेसबुक और व्हाट्सएप्प पर भी शेयर कर आगे अपने मित्रों के साथ भी साझा कर सकते है, शेयरिंग के लिए आवश्यक लिंक नीचे दिए गये है.

“मोना-गुरु” हर महिला की वो आभासी (वर्चुअल) सहेली है ,जो रोजमर्रा की हर मुश्किल का आसान हल तो देती ही है साथ ही अपनी सखियों को घर-संसार से जुड़ी हर बातों में आगे भी बनाये रखती है.

राजमा के कवाब

राजमा के कवाब – स्वाद और पौष्टिकता का एक अनोखा मेल

राजमा के कवाब – स्वाद और पौष्टिकता का एक अनोखा मेल

प्रिय मित्रों सबसे पहले मैं आपको स्पष्ट कर दूँ की ये एक पूरी तरह से शाकाहारी व्यंजन है और चूँकि राजमा प्रोटीन का एक बेहद ही जबर्दस्त स्त्रोत है तो इस व्यंजन की पौष्टिकता भी कमाल की है और हाँ जैसा की अधिकतर पौष्टिक व्यंजनों के साथ होता है वो स्वाद में कुछ ख़ास बेहतर नही होते है जिसके चलते परिवार में बच्चे और कई बार बड़े भी उन व्यंजनों को नियमित नही खाते है, लेकिन राजमा के कवाब के साथ ऐसा बिलकुल नही है ये स्वाद में भी बेहद ही गजब के है जिसके चलते बच्चे तो बच्चे आपके घर के बड़े भी इसे आये दिन बनाने की मांग आपसे करने वाले है. तो ज्यादा समय ना लेते हुए सीधे इसको बनाने की विधि विडियो के माध्यम से देखते है.

ऐसे बनेगे राजमा के कवाब :

तीन कप आटे में थोडा सा बेकिंग सोडा, तेल और बेकिंग पाउडर डालकर गूँथ ले और एक मुलायम डो बना लेवे.
दो कप भीगे हुए राजमा का पेस्ट बना ले, उसमे अदरक,लहुसन,और प्याज का पेस्ट मिलाइये
साथ में कटी हुई हरी मिर्च, हरा धनिया और नमक,लाल मिर्च,हल्दी और गर्म मसाला मिलाइए
इसमें थोडा सा आटा मिलाकर एक विडियो में दिखने जैसा मिश्रण बना लीजिये.

इसके आगे कवाब बनाने की विधि आप हमारे नीचे दिए गये विडियो में देखिये



मोना गुरु के रेसिपी विडियो आपका बेहद ही कम समय लेते हुए व्यंजन की सारी जरूरी जानकारी आपको दे देते है क्योंकि मोना गुरु का मानना है हर महिला अपने परिवार की शेफ़ ही होती है नया व्यंजन सिखाने के लिए उसे सिर्फ एक हल्के से मार्गदर्शन की जरूरत होती है और कुछ नहीं.

देखिये राजमा के कवाब का विडियो

सखियों आपको अगर मोना गुरु की ये रेसिपी पसंद आई हो तो आप इसे जरुर फेसबुक और व्हाट्सएप्प पर अपने मित्रों के साथ आगे भी शेयर कीजिये, शेयरिंग के लिए नीचे लिंक दिए गये है



“मोना-गुरु” हर महिला की वो आभासी (वर्चुअल) सहेली है ,जो रोजमर्रा की हर मुश्किल का आसान हल तो देती ही है साथ ही अपनी सखियों को घर-संसार से जुड़ी हर बातों में आगे भी बनाये रखती है.

 

मच्छर

मच्छर भगाने का सबसे असरकारक और किफ़ायती घरेलू उपाय

मच्छर भगाने का सबसे असरकारक,आसान और सस्ता घरेलू उपाय देखिये विडियो के द्वारा

मित्रों मोना गुरु का हमेशा प्रयास रहता है की अपने दर्शको,पाठको को कुछ ऐसी नई और आसान जानकारियाँ उपलब्ध करवाई जाती रहे जिससे उनके दैनिक जीवन की समस्याओं का आसान हल उनको मिलता रहे, इसी कड़ी में आज हम आपको मच्छर भगाने का एक बेहद ही किफ़ायती और असरकारक उपाय एक विडियो के द्वारा बताने जा रहे है. इसको अपनाना बिलकुल आसान है और ये हमारे स्वास्थ्य के लिए भी बेहद लाभप्रद है.



प्रत्येक वर्ष कई हज़ारों लोग मच्छर के काटने की वजह से होने वाली बीमारियां जैसे डेंगू, चिकनगुनिया, मलेरिया आदि से अपनी जान गवां देते है। जिसका मुख्य कारण साफ़ सफाई नहीं रखना और पूर्ण देखभाल नहीं करना होता है।



पहले पढ़िए मच्छरों से होने वाली बिमारियों से बचने के कुछ साधारण उपाय :

*मच्छरदानी लगाकर सोएं।

*घर के अंदर मच्छर मारने वाले दवा छिडके।

*घर के दरवाजो और खिडकियों पर जाली लगवाये।

*हल्के रंग के कपड़े पहने ,जिनसे आपका शरीर पुरी तरह ढका हो।

*दीवारों-दरवाजो और खिडकियों की दरारों को भर दे।

*शाम होते ही घर की खिडकियों को बंद कर ले।

*अपनी सेहत बनाये रखने के लिए मौसमी फलो का सेवन करे लेकिन सलाद और कच्ची सब्जिया ना खाए।

*बच्चो को घर के अंदर ही खेलने दे।



*सूर्योदय और सूर्यास्त के समय एवं शाम को घर के अंदर रहे क्योंकि मच्छर इस वक्त ज्यादा सक्रिय होते है।

*ऐसी जगह पर न जाए, जहां झाडिया हो क्योंकि वहा पर बहुत मच्छर होते है।

*अपने घर और आसपास की सफाई का विशेष ध्यान दे।



*आसपास गन्दगी बिलकुल ना होने दे।

*कूलर और फ्रिज का पानी नियमित रूप से बदले और घर के आसपास पानी जमा ना होने दे।

*बारिश का पानी निकलने वाली नालियों , पुराने टायरो ,बाल्टियो , प्लास्टिक कवर ,खिलौनों और अन्य जगह पर पानी बिलकुल ना रुकने दे।

अब नीचे देखिये वो विडियो जो आपको मच्छर भगाने का सबसे आसान,सेहतमंद और किफ़ायती सोल्यूशन देगा

मित्रों क्या आपको जानकारी है की अभी वर्तमान में जो उपाय हम मच्छर भगाने के लिए कर रहे है वो हमारे स्वास्थ्य पर कितना दुष्प्रभाव डालते है, एक मच्छर अगरबती का धुआं रात भर हमारे फेफड़ो में कई सिगरेट के बराबर धुआं पहुंचा देता है और यही हाल उन केरोसिन में केमिकल मिली छोटी शीशियो से होता है जिन्हें हम रात भर बिजली से लगाकर चलाते है, उससे उडती गैस भी सीधे हमारे फेफड़ो में जाती है और हाँ उसकी कीमत के भी क्या कहने, तो आज जो उपाय हम हमारे इस विडियो में दिखाने जा रहे है ये मच्छर तो दूर करेगा ही करेगा साथ ही आपकी सेहत और जेब को भी बहुत राहत देगा.



आइये देखते है इस घरेलू नुस्खे को तैयार करने का विडियो :

मित्रों अगर आपको ये जानकारी अच्छी लगी हो तो आप इसे फेसबुक और व्हाट्सएप्प पर शेयर करके अपने मित्रों के साथ भी साझा कर सकते है, शेयरिंग के लिए जरूरी बटन नीचे दिए गये है.

मोना-गुरु हर भारतीय की वो सहेली है जो दैनिक जीवन की सामान्य समस्याओं के हल तो बताती ही है साथ ही अपने मित्रों को घर-संसार से जुडी बातों में भी हमेशा आगे बनाये रखती है.

 

मशहूर अभिनेत्रियाँ

मशहूर अभिनेत्रियाँ-जो वास्तविक जीवन में अपनी शादी से पहले ही माँ बन गयी थी

मशहूर अभिनेत्रियाँ-जो वास्तविक जीवन में अपनी शादी से पहले ही माँ बन गयी थी

वैसे तो बॉलीवुड हर रोज किसी न किसी वजह से सारी दुनिया में चर्चा का विषय बना रहता है. सभी प्रशंसक अपने प्रिय कलाकार के निजी जीवन के बारे में कुछ न कुछ जानने के इच्क्षुक होते हैं , तो ये हैं अपने बॉलीवुड की वो मशहूर अभिनेत्रियाँ जो बिन शादी किये ही मां बनी और खूब सुर्खियां बटोरी. आप भी जानिए कौन कौन हैं इस लिस्ट में शामिल. .


तो आज मोना गुरु आपके लिए लेकर आई है बॉलीवुड की कुछ बेहद खूबसूरत अभिनेत्रियों के बारें में उनके जीवन से जुड़ी कुछ खास बातें.

श्रीदेवी

बॉलीवुड एक्ट्रेस श्रीदेवी ने तो सार्वजनिक तौर पर स्वीकारा था की वो शादी से पहले प्रेंग्नेंट थीं. श्रीदेवी ने जब बोनी कपूर से शादी की थी वो प्रेग्नेंट थीं. श्रीदेवी और बोनी ने 1996 में शादी की और कुछ महीने बाद ही श्री ने बड़ी बेटी जाह्नवी को जन्म दिया. आज जाह्नवी स्टार पुत्रियों में सबसे ज्यादा पौपुलर हैं.

महिमा चौधरी

दूसरा नाम है महिमा चौधरी का. महिमा ने साल 2006 में एक निजी शादी समारोह में बौबी मुखर्जी के साथ शादी की. कुछ रिपोर्टर्स का कहना है कि वे उस वक्त प्रेग्नेंट थी. शादी के कुछ ही महीने बाद महिमा चौधरी ने बेटी को जन्म दिया और इस खबर ने सभी को सकते में डाल दिया था.


कोंकणा सेन शर्मा

हाल ही में, अपने डिवोर्स के लिए खबरों में रहीं कोंकणा सेन शर्मा ने साल 2010 में अपने घर पर एक निजी समारोह में एक्टर रणवीर शौरी से शादी की थी. रणवीर और कोंकणा काफी लंबे वक्त से एक साथ थे. 2011 में कोंकणा ने बेटे को जन्म दिया. मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि कोंकणा ने प्रेग्नेंसी की वजह से ही जल्दबाजी में शादी की थी. हालांकि, कोंकणा ने इस बात को कभी स्वीकार नहीं किया है.

अमृता अरोड़ा

अमृता अरोड़ा ने 2009 में बिजनसमैन शकील से शादी की थी. ख़बरों की मानें तो अमृता के बारे में भी यही कहा जाता है कि वो शादी से पहले ही प्रेग्नेंट हो गई थीं. शादी के बाद उन्होंने यह घोषणा करने में तनिक भी देरी नहीं की कि वो मां बनने वाली हैं.



नीना गुप्ता

बॉलीवुड और टीवी की फेमस नीना गुप्ता एक जाना पहचाना नाम है. नीना गुप्ता को उनके उस कठोर फैसले के लिए भी जाना जाता है, जब उन्होंने मशहूर क्रिकेटर विवियन रिचर्ड्स के साथ रिलेशनशिप के चलते हिम्मत दिखाकर शादी से पहले मां बनने का फैसला किया था. उन्होंने शादी से पहले 1989 में बेटी मसाबा को जन्म दिया.

सारिका

दक्षिण के सुपरस्टार कमल हासन के साथ एक्ट्रेस सारिका का अफेयर था. कमल हासन की पहले शादी हो चुकी थी. अपनी पहली पत्नी से तलाक लेने के बाद कमल हासन सारिका के साथ रहने लगे और इसी दौरान खबर आई कि सारिका प्रेग्नेंट हैं. 1986 में सारिका ने बेटी श्रुति हासन को जन्म दिया और फिर 1988 में शादी कर ली.



सेलिना जेटली

मिस इंडिया रहीं सेलिना जेटली शादी से पहले ही अपने पति पीटर हाग को डेट कर रही थी. रिपोर्ट्स की माने तो जेटली शादी से पहले ही प्रेग्नेंट थी. 2012 में उन्होने जुड़वां लड़कों को जन्म दिया. पीटर दुबई के एक होटल से जुड़े हैं. बहरहाल, मां बनना कहते हैं कुदरत का सबसे हसीन  तोहफा है और इस तोहफे की कद्र दुनिया करती है!

तो मित्रों ये थी मोना गुरु की तरफ से आपके चहेते बॉलीवुड कलाकारों के जीवन से जुडी कुछ बाते, आपको ये जानकारी अच्छी लगी हो तो आप इसे फेसबुक और व्हाट्सएप्प पर शेयर करके आगे भी अपने मित्रों के साथ बांट सकते है, शेयरिंग के लिए आवश्यक लिंक नीचे दिए गये है.

इसके अलावा अगर आप मोना गुरु से सीधे कुछ कहना चाहते है तो नीचे दिए कमेंट बॉक्स में कमेन्ट कर दीजिये,आपकी बात मोना गुरु तक पहुँच जायगी.

“मोना-गुरु” हर महिला की वो आभासी (वर्चुअल) सहेली है ,जो रोजमर्रा की हर मुश्किल का आसान हल तो देती ही है साथ ही अपनी सखियों को घर-संसार से जुड़ी हर बातों में आगे भी बनाये रखती है.

 

जैम शेक

जैम शेक – इसको देखकर अब कोई भी बच्चा नही करेगा दूध पीने में आना-कानी

जैम शेक – इसको देखकर अब कोई भी बच्चा नही करेगा दूध पीने में आना-कानी

मित्रों जैसा की मोना गुरु का आपसे वादा रहता है की यहाँ आपको रोजमर्रा की हर उस समस्या का बिलकुल सामान्य हल दिया जाएगा जिस समस्या से आप रोज अपने घर में लड़ती हैं और रोज परेशान होती है, ऐसी ही एक हर घर की आम समस्या है की बच्चे दूध नही पीते है, दूध देखकर ही वो अपनी नाक-भौं सिकोड़ लेते है , फिर रोज उनके पीछे-पीछे गिलास लेकर दौड़ना और झीकना ….. आम दृश्य है ये रोज सुबह किसी भी घर का.जैम शेक



फ्रेंड्स गर्मियों का मौसम आ गया है और इस मौसम में मोना गुरु आपको बच्चों के लिए इतना मजेदार और पौष्टिक ड्रिंक बनाना सिखाने जा रही है जो आपके बच्चे को दिन भर उर्जा से भरपूर तो रखेगा ही रखेगा साथ ही उसे गर्मी और लू से भी बचाएगा और हाँ सबसे बड़ी बात इसके स्वाद और लुक को देखकर बच्चा आपसे खुद आगे होकर रोज बनाने की जिद करेगा, मतलब आपकी दूध को लेकर रोज-रोज होने वाली चिक-चिक खत्म.

जैम शेक



तो चलिए बिलकुल भी देर नही करते हुए सीखते है इस मजेदार ड्रिंक को जिसका नाम है “जैम शेक”. जितना मजेदार इसका नाम है उतना ही ये पीने में स्वादिष्ट और पौष्टिक है और हाँ इसको बनाना भी बेहद आसान है, इसे आप हमारे नीचे दिए गये विडियो में बेहद आराम से देख और समझ सकते है.

जैम शेक बनाने की विधि :

* दो ग्लास ठंडा दूध लीजिये, उसे मिक्सी में डालिए
* एक कटा हुआ केला इसमें डालिए
* थोड़े से बादाम और दो चम्मच जैम ( किसान मिक्स फ्रूट ) इसमें डालिए
* जरूरत लगे तो शक्कर स्वादानुसार डालिए
* मिक्सी का ढक्कन बंद कीजिये और अच्छे से चलाइये ( लगभग 10 से 20 सेकंड तक )
* जैम शेक तैयार है, गिलास में डालिए उपर से थोड़े बारीक कटे ड्राई फ्रूट्स डालिए
* ठंडा-ठंडा सर्व कीजिये

और बेहतर समझ के लिए नीचे इसका विडियो देखिये



जैम शेक कैसे बनाये विडियो में देखिये :

तो फ्रेंड्स अब आज से ही बच्चों को स्वाद और सेहत से भरपूर इस जैम शेक को देना शुरू कीजिये, आपकी बच्चों की दूध नही पीने की समस्या तुरंत समाप्त हो जायगी.

फ्रेंड्स अगर आपको मोना गुरु का ये पोस्ट पसंद आया हो तो आप इसे फेसबुक और व्हाट्सएप्प पर शेयर करके आगे अपने मित्रों के साथ भी साझा कर सकते है, शेयरिंग के लिए आवश्यक लिंक्स नीचे दिए गये है.

“मोना-गुरु” हर महिला की वो आभासी (वर्चुअल) सहेली है ,जो रोजमर्रा की हर मुश्किल का आसान हल तो देती ही है साथ ही अपनी सखियों को घर-संसार से जुड़ी हर बातों में आगे भी बनाये रखती है.

ब्यूटी फूड्स – इनका नियमित सेवन करिये और अपनी असली उम्र से दस साल छोटे दिखिये

ब्यूटी फूड्स – इनका नियमित सेवन करिये और अपनी उम्र से दस साल छोटे दिखिये

जैसा की नाम से ही स्पष्ट है “ब्यूटी फूड्स” अर्थात वो फ़ूड जिनमे एंटी एजिंग प्रॉपर्टी की अच्छी मात्रा तो है ही साथ ही साथ ये ग्लोइंग स्कीन और अच्छे बालो के लिए जरूरी सभी पोषक तत्वों से भी भरपूर है , कोशिश कीजिये की इन दिए गये ब्यूटी फूड्स में से किसी ना किसी एक फ़ूड की मात्रा आपके द्वारा लिए जा रहे हर भोजन में अवश्य हो, मात्र एक महिना कर के देखिये नतीजे आपको तो क्या आपके सभी चाहने वालो को भी चौंका देंगे.


करेला
* करेला रक्त शुद्ध करता है इसलिए इसके सेवन से मुंहासे नहीं आते.
* विटामिन ए से भरपूर करेला एक अच्छा एंटीऑक्सीडेंट है और त्वचा को स्वस्थ बनाए रखता है.
* करेला एंटी एजिंग का भी काम करता है. इसके सेवन से त्वचा जवां नज़र आती है.
* मुंहासों के गहरे दाग़ पर करेले के पत्ते पीसकर लगाने से दाग़ ग़ायब हो जाते हैं.

ब्यूटी फूड्स

परवल
* करेले की तरह परवल भी रक्त शुद्धि का काम करता है, जिससे त्वचा संंबंधी परेशानी नहीं होती है.
* परवल का नियमित सेवन करने से स्किन एलर्जी से छुटकारा मिलता है.
* दाद-खाज पर परवल की पत्तियों का रस लगाने से यह पूरी तरह ठीक हो जाता है.

ब्यूटी फूड्स

मेथी
* मेथी के सेवन से पेट साफ़ रहता है, जिससे त्वचा स्वस्थ, निखरी व कांतिमय नज़र आती है.
* मेथी के सेवन से फोड़े, फुंसी, मुंहासे आदि होने की संभावना कम हो जाती है.
* झांइयों पर मेथी का पत्ते पीसकर लगाने से इनका गहरा रंग हल्का हो जाता है.
* मेथी के पत्तों के रस से या फिर मेथी को पीसकर बाल धोने से बाल चमकदार और मज़बूत बनते हैं.

ब्यूटी फूड्स

मूली
* मूली की सब्ज़ी खाने या मूली का रस पीने से रक्त शुद्ध होता है और मुंहासे नहीं आते हैं.
* एक महीने तक लगातार मूली खाने से मुंहासों के दाग़-धब्बे कम हो जाते हैं.
* मूली को काटकर मुंहासों पर रगड़ने से मुंहासे ग़ायब हो जाते हैं.
* इसी तरह मूली को पीसकर झांइयों पर लगाने से झांइयां भी कम हो जाती हैं.
* मूली के रस में तिल का तेल मिलाकर बालों पर मसाज करें. इससे बालों का झड़ना कम होगा. साथ ही जुंओं की समस्या भी दूर हो जाएगी.

ब्यूटी फूड्स

लहसुन
* एंटी ऑक्सीडेंट लहसुन खाने से त्वचा ख़ूबसूरत नज़र आती है.
* नियमित लहसुन के सेवन से न स़िर्फ आपकी, बल्कि त्वचा की उम्र में लंबी हो जाती है यानी त्वचा जवां नज़र आती है.
* मुहांसे या फुंसियों पर लहसुन की कली पीसकर लगाने से आराम मिलता है.

ब्यूटी फूड्स



टमाटर
* विटामिन ए और सी से भरपूर टमाटर का सेवन करने से मुंहासे नहीं होते और त्वचा स्वस्थ बनी रहती है.
* टमाटर के नियमित सेवन से त्वचा दमकती है.
* चेहरे पर टमाटर काटकर लगाने से न स़िर्फ त्वचा में निखार आता है, बल्कि ब्लैक एंड व्हाइड हेड्स की भी छुट्टी हो जाती है.
* चेहरे पर टमाटर लगाने से खुले रोम छिद्र बंद होते हैं.

ब्यूटी फूड्स

अंगूर
* नेचुरल स्किन गार्ड अंगूर सन डैमेज से त्वचा की रक्षा करता है.
* एंटी एजिंग अंगूर के सेवन से त्वचा का एजिंग प्रोसेस (बढ़ती उम्र के संकेत) धीमा हो जाता है, जिससे लंबे समय तक त्वचा जवां नज़र आती है.
* विटामिन सी से भरपूर अंगूर खाने से न स़िर्फ त्वचा व बाल, बल्कि आंखें भी ख़ूबसूरत नज़र आती हैं.

ब्यूटी फूड्स

नींबू
* नींबू के सेवन से विटामिन सी की पूर्ति होती है, इससे त्वचा स्वस्थ बनी रहती है.
* चेहरे पर नींबू का रस लगाने से मुहांसे के दाग़ हल्के हो जाते हैं.
* नींबू का रस लगाने से चेहरे त्वचा और बाल दोनों शाइनी नज़र आते हैं.
* बाल में नींबू का रस लगाने से बाल डैंड्रफ से मुक्त हो जाते हैं.

ब्यूटी फूड्स



आंवला
* आंवला न स़िर्फ त्वचा, बल्कि बालों के लिए भी फ़ायदेमंद होता है.
* आंवला खाने से त्वचा दमकती है तथा बाल लंबे, घने और मज़बूत बनते हैं.
* आंवले के नियमित सेवन से झुर्रियों की शिकायत भी नहीं होती है.
* चेहरे पर आंवला पाउडर लगाने से त्वचा में निखार आता है.

ब्यूटी फूड्स

अदरक
* एंटी एजिंग अदरक के सेवन से त्वचा लंबे समय तक जवां बनी रहती है.
* रोज़ाना सुबह खाली पेट अदरक चबाने से त्वचा आकर्षक और निखरी नज़र आती है.
* अदरक का रस काफ़ी असरदार होता है. इसे चेहरे पर लगाने से त्वचा चमकदार नज़र आती है.

ब्यूटी फूड्स

प्रिय मित्रों ये थी एंटी एजिंग फूड्स की जानकारी खास मोना गुरु के पाठको के लिए,ऐसा बिलकुल भी नही है की आपको ये सारे ब्यूटी फूड्स रोज ही खाने है, कोशिश कीजिये की कम से कम इनमे से कोई भी एक आपके द्वरा लिए गये हर भोजन में जरुर हो , ज्यादा होगा तो बहुत ही अच्छा है. इस सलाह को फॉलो कीजिये और मात्र एक माह में अपनी त्वचा में फर्क देखिये .

अगर आपको ये जानकारी अच्छी लगी हो तो दिए गये लिंक्स पर क्लिक करके आप इसे व्हाट्सएप्प और फेसबुक पर आगे भी अपने मित्रों के साथ भी भी शेयर कर सकते हैं, इसके अतरिक्त यदि आप लोग कोई सवाल पूछना चाहे अथवा कोई सुझाव देना चाहे तो नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में कमेंट करके आप अपनी बात मोना गुरु तक पहुंचा सकते है.

“मोना-गुरु” हर महिला की वो आभासी (वर्चुअल) सहेली है ,जो रोजमर्रा की हर मुश्किल का आसान हल तो देती ही है साथ ही अपनी सखियों को घर-संसार से जुड़ी हर बातों में आगे भी बनाये रखती है. 

 

सफल पैरेंटस

सफल पैरेंट्स बनना है तो हमेशा ध्यान रखिये ये आठ छोटी-छोटी सी बातें

सफल पैरेंट्स बनना है तो हमेशा ध्यान रखिये ये छोटी-छोटी सी बातें

हर दंपती के लिए मां-पिता बनना एक बेहद खूबसूरत पल होता है. लेकिन दूसरी तरफ पैरेंट्स बनना इतना आसान काम भी नहीं है. कई मौके आते हैं जब आप खुद को एक पैरेंट्स के तौर पर बुरी तरह असफल महसूस करते हैं. हालांकि हर पैरेंट्स की जिंदगी में ऐसे उतार-चढ़ाव आते रहते हैं.हम आपको बता रहे हैं कि आप कैसे एक अच्छे पैरेंट्स साबित हो सकते हैं, बस कुछ छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखकर.

1- बच्चों पर गर्व करें,कोसे नहीं – मां-बाप बनने के एहसास से खूबसूरत कोई एहसास नहीं होता है. यह हर किसी की जिंदगी में किसी तोहफे से कम नहीं होता है. आप खुद को खुशकिस्मत समझिए और अपने बच्चे को भी ऐसा ही महसूस कराइए. कई लोग कुछ वजहों से मां-बाप नहीं बन पाते हैं और उनकी सबसे बड़ी ख्वाहिश यही रह जाती है कि उनकी भी कोई औलाद हो. इसलिए कभी भी अपने बच्चों पर अफसोस ना करें और ना ही अपने बच्चों के अंदर ऐसी भावनाएं पनपने दें.



2-कभी भी उनकी तुलना ना करें – यह एक जुर्म है कि आप अपने बच्चे की तुलना किसी और से करती हैं. चाहे वे आपके बच्चे के दोस्त हों, भाई-बहन हों या फिर कोई और. आपको यह समझना चाहिए कि हर बच्चा अपने आप में खास होता है. हर बच्चे के अलग सपने और सोच हो सकती है और यह पैरेंट्स का काम है कि वे उनकी भावनाओं और सपनों का सम्मान करें.अगर आप अपने बच्चे को किसी से कमतर बताते हैं तो वह धीरे-धीरे हीनभावना का शिकार हो सकता है और उसका आत्मविश्वास कमजोर होने लगता है. इसलिए यह बहुत जरूरी है कि आप अपने बच्चे को उसी रूप में स्वीकार करें जैसे वो हैं. वे अपनी जिंदगी में जो बनना चाहते हैं, उन्हें बनने दें. उन्हें जिस चीज में दिलचस्पी है, उन्हें करने दें.

3-कभी भी उन्हें कड़ी सजा ना दें – जो बच्चा गलतियां ना करें, शरारत ना करें, वह बच्चा बच्चा नहीं है. इसका यह मतलब नहीं है कि आप उनकी हर गलती पर आंख मूंद लें. बस बात इतनी है कि उन्हें सजा और डांट एक अनुपात में हो. किसी भी परिस्थिति में उन्हें शारीरिक रूप से सजा ना दें. अपना सम्मान खोने के साथ-साथ बच्चों को पीटना उन्हें हिंसक बना देती हैं. आपका बच्चा दूसरों से भी मारपीट करना शुरू कर देगा और उसके अंदर आक्रामकता बढ़ती जाएगी. अपने बच्चों को सबक सिखाने के लिए दूसरे तरीकों का इस्तेमाल करें लेकिन उन्हें मारें-पीटे नहीं.

4-उन्हें समझाने के लिए स्वाभाविक नतीजे बताएं – आप चाहे कितना भी डांट लें और धमकी दें उन्हें कभी भी अपनी गलती समझ नहीं आएगी. सबसे अच्छा तरीका है कि उन्हें समझाने के लिए व्यावहारिक नतीजे देखने दें. उदाहरण के तौर पर- आपने अपने बच्चे को कमरा साफ रखने की हिदायत देती है तो छोड़ दें. जब उसकी चीजें खोने लगेंगी तो उसे खुद ही यह बात समझ आएगी. इसमें वक्त तो ज्यादा लगेगा लेकिन तरीका कारगर जरूर है.

5- आपके काम आपके शब्दों से ज्यादा बोलते हैं – कई पैरेंट्स ऐसे होते हैं जो अपने बच्चों से बहुत अच्छी-अच्छी बातें करते हैं लेकिन खुद उन पर अमल नहीं करते हैं. यह पैरेंट्स की सबसे बड़ी गलती होती है क्योंकि आपका बच्चा वही कुछ सीखता है जो वह आपको करते हुए देखता है. यकीन मानिए कई बातें वह आपके बिना सिखाए आपको देखकर ही सीख जाता है. अपने बच्चों के सामने अपने बर्ताव में खास सावधानी बरतें.







महिला क़ानूनी अधिकार

महिला क़ानूनी अधिकार – जिसकी जानकारी होना हर महिला के लिए बेहद आवश्यक है

मित्रों जैसा की मोना गुरु का प्रयास रहता है की अपनी सखियों और मित्रों को हर जरूरी जानकारी से आसान भाषा में परिचित करवा कर उन्हें आगे बनाये रखना है, तो इसी कड़ी में आज मोना गुरु आपको महिलाओं से जुड़े उन विशेष कानूनों की जानकारी दे रही है जो किसी परिस्थिति विशेष में एक महिला के लिए बेहद ही काम के साबित हो सकते है.



1. शनिवार और रविवार को बेल ( जमानत ):

कई बार देखा गया है की वकील और पुलिस महिला पर अनावश्यक दवाब बनाते है की शनिवार और इतवार होने के कारण कुछ नही हो सकता, ऐसे में महिलाओं को उनका ये अधिकार मालूम होना ही चाहिए.

2. सेक्शन 154 :

भारतीय कानून की इस धारा के तहत भी महिलाओं को बेहद विशेष अधिकार दिए गये है, लेकिन जानकारी के अभाव में महिलायें इसका उपयोग नही कर पाती है और उनको कोर्ट में विपरीत परिस्थितियों का सामना करना पड़ जाता है.

3.जीरो ऍफ़आईआर :

एक लम्बे समय से देश के नागरिक ये शिकायत करते आ रहे है की वो पुलिस स्टेशन में अपनी शिकायत लेकर गये लेकिन पुलिस ने यह कहकर पल्ला झाड लिया की ये उनके इलाके का मामला नही है, इस तरह के मामले बढ़ते देख कर भारत सरकार द्वारा जीरो ऍफ़आईआर को लागू किया और अब यह अधिकार सिर्फ महिलाओं को ही नहीं अपितु देश के हर नागरिक को दिया गया है.



4. सेक्शन 354 :

आजकल देखा गया है की लोगो ने महिलाओं का अपमान करना जैसे एक शगल ही बना लिया है, भारत सरकार द्वारा इस दिशा में भी पहल करते हुए महिलाओं को विशेष शक्तियां दी गयी है

5. सेक्शन 503 :

समाज में कई बार देखा गया है की कुछ लोग महिलाओं को धमका कर या उन पर अन्य प्रकार से नाजायज दवाब बनाकर अपना उल्लू सीधा करना चाहते है, ऐसे में ये धारा महिलाओं को उनकी सुरक्षा के लिए पूर्ण शक्ति प्रदान करती है और इस प्रकार के लोगो की नाक में नकेल भी डाल देती है.

सखियों और सभी मित्रों यदि आपको ये जानकारी अच्छी लगी हो तो आप इसे फेसबुक और व्हाट्सएप्प पर शेयर करके आगे भी अपने मित्रों के साथ साझा कर सकते है, शेयरिंग के लिए आवश्यक लिंक्स नीचे दिये गये है.