समयपूर्व प्रसव के शारीरिक संकेत

वैसे तो शिशु के पहले जन्म लेने के आसार कम ही हैं लेकिन हर माँ बनने वाली महिला को समय से पूर्व प्रसव के संकेत पता होने चाहिए। पहले पता लगने से कई तरह की उलझनों से बचा जा सकता है। माना कि आपको इसकी जरूरत नहीं होगी लेकिन आपको इसके बारे में पता होना चाहिए। यदि 37 सप्ताह से पहले निम्नलिखित में से कोई लक्षण उभरे तो डॉक्टर को फोन करें।

  • डायरिया, उल्टी या अपच के बिना लगातार पेट में ऐंठन।
  • हर दस मिनट बाद दर्दनाक संकुचन। ‘‘ब्रैक्सन हिक्स कंट्रैक्शन’’ के साथ उन्हें न जोड़ें।
  • पीठ के निचले हिस्से में लगातार दर्द महसूस होना।
  • योनि स्राव में बदलाव, यदि यह गुलाबी या भूरे रक्त के साथ हो
  • पेल्विक एरिया में दर्द या दबाव
  • योनि से लगातार रिसाव

याद रखें कि इनमें से कुछ ही लक्षण उभर सकते हैं, सभी नहीं। ऐसा कोई लक्षण सामने आते ही डॉक्टर को दिखाने में देर न करें। सुरक्षा को हमेशा ध्यान में रखना चाहिए। यह गर्भावस्था का पहला नियम है।