ज्योतिष एवं वास्तु

रोटी के टोटके जिनसे खुल सकता है किस्मत का बंद पड़ा ताला

रोटी के टोटके

अगर आपका समय ठीक नहीं चल रहा है या रोज कोई नई मुसीबत आ रही है या फिर जीवन में शांति नहीं है, तो इसके लिए आप एक छोटा उपाय कर इन सभी परेशानियों से मुक्ति पा सकते हैं। शिगनापुर  के ज्योतिषाचार्य पं. आश्विन शुक्ला के अनुसार, ये उपाय बहुत ही पुराना है। अगर आप समस्याओं से निजात पाना चाहते हैं तो इसके लिए जरूरी है यह उपाय करते समय मन में श्रद्धा होना। ये उपाय इस प्रकार है-

रोटी के टोटके

1. सुबह जब घर में भोजन बने तो सबसे पहले वाली रोटी अलग निकाल लें। इस बात का ध्यान रखें कि ये रोटी अन्य रोटियों से थोड़ी बड़ी हो ताकि आसानी से इसके चार टुकड़े किए जा सकें।

2. अब इस रोटी के बराबरी से चार टुकड़े कर लें और इन चारों पर कुछ मीठा जैसे- खीर, गुड़ या शक्कर रख दें। इस बात का विशेष ध्यान रखें कि बाहर का कोई व्यक्ति आपको यह टोटका करते हुए न देख पाए।

3. रोटी के चार टुकड़ों में से सबसे पहला वाला गाय को खिला दें और भगवान से प्रार्थना करें कि आपकी समस्याओं का निदान जल्दी से जल्दी हो जाए और आपकी मनोकामना पूरी हो। धर्म ग्रंथों के अनुसार, गाय में ही सभी देवताओं का निवास होता है इसलिए सबसे पहले रोटी गाय को ही दी जाती है।

रोटी के टोटके

4. अब दूसरा टुकड़ा कुत्ते को खिला दें। शिवमहापुराण के अनुसार कुत्ते को रोटी खिलाते समय बोलना चाहिए कि- यमराज के मार्ग का अनुसरण करने वाले जो श्याम और शबल नाम के दो कुत्ते हैं, मैं उनके लिए यह अन्न का भाग देता हूं। वे इस बलि (भोजन) को ग्रहण करें। इसे कुक्कर बलि कहते हैं।

रोटी का उपाय

5. अब रोटी के तीसरे भाग को कौओं को खिला दें और बोलें- पश्चिम, वायव्य, दक्षिण और नैऋत्य दिशा में रहने वाले जो पुण्यकर्मा कौए हैं, वे मेरी इस दी हुई बलि को ग्रहण करें। धर्म ग्रंथों में इसे काक बलि कहते हैं।

6. अब रोटी का अंतिम टुकड़ा जो बचा है उसे घर पर आए किसी भिक्षुक (भिखारी) को दे दें।

रोटी का उपाय

रोटी के इस बेहद साधारण से टोटके को मात्र एक सप्ताह तक कीजिये और अपने समय को बदलते हुए देखिये.

शनि, राहु या केतु के कारण परेशानियों में रोटी के चमत्कारी उपाय

यदि आपको शनि, राहु या केतु के कारण परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है तो आप रोटी का यह उपाय करें…

रोज रात को खाना बनाते समय जो रोटी अंत में बनती है उस पर तेल लगाकर वह रोटी किसी काले कुत्ते को दे दें। यदि काला कुत्ता न दिखाई दे तो किसी और कुत्ते को भी रोटी दी जा सकती है।

यह उपाय प्रतिदिन किया जा सकता है, यदि आप चाहे तो सप्ताह में केवल एक दिन शनिवार को भी यह उपाय कर सकते हैं।
इस उपाय से कुंडली के अन्य ग्रह दोष भी शांत हो जाते हैं ।

महालक्ष्मी और कुबेर देव की विशेष कृपा के लिए यह उपाय करें –

*हर रोज यह उपाय करना है। सुबह-सुबह जब भी रोटियां बनाई जाएं, उस समय पहली रोटी के चार बराबर भाग कर लें।
*इनमें से एक भाग गाय को दें, दूसरा भाग काले कुत्ते को देना है, तीसरा भाग कौओं के लिए निकालना है और चौथा भाग घर के पास किसी चौराहे पर रखकर आना है।

*ऐसा प्रतिदिन करें या विशेष मुहूर्त या पर्व-त्योहार पर करें।

महालक्ष्मी कुबेर के इस उपाय से आपकी आर्थिक स्थिती में तुरंत सुधार होने लगेगा

घर के किसी सदस्य की बीमारी पर –

*यदि घर में कोई न कोई सदस्य हमेशा बीमार रहता है तो रोटी बनाते समय यह उपाय प्रतिदिन करें।

*जब भी रोटियां बनाई जाएं तब रोटी सेंकने से पहले तवे पर दूध के कुछ छींटे डाल देना चाहिए।
*इस उपाय से आपके घर से बीमारियां दूर हो जाएंगी और सभी सदस्यों को स्वास्थ्य संबंधी लाभ प्राप्त होने लगेंगे।

*यदि किसी व्यक्ति को बार-बार स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां आती हैं और इससे धन की भी हानि हो रही है तो रोटी का यह उपाय करें

*प्रतिदिन सुबह के समय में दो रोटी लेकर उसमें गुड़ रखें और इसके बाद यह रोटियां संबंधित व्यक्ति के सिर से पैर तक 7 बार या 11 बार या 13 बार वार लें। इसके बाद यह रोटियां किसी कुत्ते को खिला दें। ऐसा करने पर बहुत ही जल्द सकारात्मक फल प्राप्त होने लगेंगे। इस उपाय से बुरी नजर भी उतर जाती है

*हिन्दी पंचांग के अनुसार हर माह में अमावस्या आती है और इस दिन रोटी का यह उपाय करें…

उपाय के अनुसार अमावस्या के दिन चावल की खीर बनाकर उसमें रोटी चूर लें और यह कौओं के लिए घर की छत पर रख दें। इस उपाय से आपके घर में रहने वाले सदस्यों पर पितृ देवताओं की विशेष कृपा होगी। पितर देवता की कृपा से ही धन संबंधी कार्यों में भी विशेष सफलता प्राप्त होती है।

सखियों यकीन जानिये अपने शास्त्रों के ये छोटे से उपाय आपके किसी भी बुरे समय को समाप्त करने की शक्ति रखते है,बस मन में विश्वास पूरा होना चाहिए.

अगर आपको मोना गुरु का ये लेख पसंद आया हो तो आप इसे फेसबुक पर शेयर कर अपने मित्रों के साथ भी साझा कर सकते है और आपकी वाल पर हमेशा के लिए रख भी सकते है.

“मोना-गुरु” हर महिला की वो आभासी (वर्चुअल) सहेली है ,जो रोजमर्रा की हर मुश्किल का आसान हल तो देती ही है साथ ही अपनी सखियों को घर-संसार से जुडी हर बातों में आगे भी बनाये रखती है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button