किसी खास दिन अथवा त्योहारों के मौके पर भारतीय परिवारों में अक्सर जो मिठाई बनती है, उनमें मावे की गुजिया का सर्वोपरि स्थान है । गुजिया में बाहर की परत मेवे की होती है और बीच का स्टफिंग मिश्रण खोया, चीनी और मेवा से बनता है । स्टफिंग मिश्रण का मिश्रण और भी अलग तरह से बन सकता है, जैसे कि सूजी का मिश्रण या गुड से बना मिश्रण परंतु पारंपरिक तौर पर गुजिया का मिश्रण हमेशा मावा या खोया से बनता है और इसे मावा की गुजिया के नाम से ही जाना जाता है । गुजिया की बाहर कि परत एकदम खस्ता होती है और स्टफिंग मिश्रण मीठा और मेवे से भरपूर होता है । अलग-अलग प्रदेशों में यह मिठाई अलग-अलग तरीके से बनती है और नाम भी अलग-अलग ही होते हैं । महाराष्ट्र में यह करंजी के नाम से और गुजरात में घुघरा, गोवा में नेवरी के नाम से जानी जाती है ।

त्यौहार पर बनाएँ हेल्दी और टेस्टी व्यंजन – मावा गुजिया

विधि : मावा गुजिया कैसे बनाये? How to make mawa gujiya ?
(step by step recipe in Hindi)

1) मावा को एक पैन में मध्यम गैस पर गरम करे।

2) इसे लगातार चलाते रखे और खोया को पिघलने दे।

3) इसे 3-4 मिनट तक भुने या यह हलका सुनहरे रंग का हो जाये तब तक भुने।

4) बाद में गैस बंद कर ले और एक बाउल या प्लेट में निकाल ले ताकि यह जल्दी से ठंडा हो जाए।

5) अब एक बाउल में मैदा और चुटकी भर नमक ले। इसमे घी डाले। उंगलियों की मदद से घी को मैदे में अच्छे से मिला ले।

6) अब आटा गूंदने के लिए धीरे धीरे करके पानी डाले और इसे गूँदना शुरू करे। आटा थोड़ा कड़ा और चिकना होना चाहिए। इसे ढककर 15 मिनट तक रखे।

7) अब भुना हुआ मावा ठंडा हो चुका होगा। इसमें चीनी, इलाइची पाउडर, जायफल पाउडर, नारियल का बुरादा, कटे हुए काजू, बादाम और किशमिश डाले। ध्यान रहे कि मावा ठंडा होने पर ही इसमे चीनी डालनी है। अगर गरम मावा में चीनी डालेंगे तो वह पिघल जाएगी और यह मिश्रण एक पेस्ट जैसा पतला हो जायेगा।

8) इसे हाथ की मदद से अच्छे से मिला ले और मावा की गांठों को तोड़ते जाए।

9) अब आटे को एक और बार मसलकर इसके बराबर से 10 हिस्से करे। इसके गोले बनाकर हथेली के बीच दबाकर तैयार करे।

10) अब एक गोले को ले और बेलन से 4 इंच के व्यास के गोल आकार में बेल ले।

11) इसके बीचोबीच 1 टेबल स्पून जितना स्टफिंग मिश्रण रखे।

12) अब सारी किनारो पर उंगली की मदद से पानी लगाए। आप पेस्ट्री ब्रश का इस्तेमाल भी कर सकते हो।

13) अब इसे अर्ध चंद्र का आकार देकर, किनारो को दबाकर पूरी तरह से बंद कर दें । अगर आपके पास गुजिया का आकार देने का मोल्ड है तो इसका इस्तेमाल करे।

14) अब कांटा चम्मच की मदद से किनारो पर डिजाईन बना ले। इससे यह दिखने में अच्छे लगगे और किनारे भी सील हो जाएगी। अगर किनारे सील नही होगी तो यह तलते समय फट सकते है।

15) यह डिजाईन नौशिखिया के लिए है। अगर आपमें धीरज है और आपको आता हो तो हाथ से भी इसकी डिजाईन बना सकते हो।

16) इसी तरह सारे गुजिया का आकार देते जाए और एक प्लेट में रखते जाए। और इसे एक रुमाल से ढककर रखे ताकि यह सूख ना जाए।

17) अब एक कड़ाही में तलने के लिए तेल या घी गरम करे। गैस की आंच को मध्यम रखे। गरम तेल में 3-4 गुजिया डाले।

18) एक और से सुनहरे रंग की होने के बाद इसे पलट दे और दूसरी और भी तले।

19) जब यह सारी और से करारी और सुनहरे रंग हो जाए तब इसे निकाले और

20) पेपर टॉवल बिछाई हुई प्लेट में रखे। इसी तरह सारे गुजिया तल ले। जैसे यह ठन्डे होंगे इसकी बाहर की परत और भी करारी और खस्ता हो जाएगी।

आप भी इसे घर पर बनाये और किसी भी खास दिन या त्यौहार पर अपने परिजनों को खिलाएँ ।