पानी-पूरी अपने भारत का एक ऐसा व्यंजन है जिसे किसी भी परिचय की जरूरत नही हैं, बच्चा हो या बड़ा, आदमी हो या महिला सभी उम्र और जाती के लोग इसको एक समान मजे से खाते है, हाँ ये बात दीगर है की कोई इसे पानी-पूरी कहता है तो कोई गोलगप्पा और कोई इसे पुचका कह कर पुकारता है .  कई घरों में तो कौन इसको ज्यादा खायेगा इस पर शर्त लगना बिलकुल आम बात है. कुल मिलाकर ये एक ऐसा व्यंजन है जो हम सबको एक दूसरे से जोड़ता है.

वैसे तो अपने भारत में अधिकतर धनिये और पुदीने के पानी के साथ इस पूरी/ पुचका को खाने का प्रचलन है, और पूरी के अंदर मैश किया हुआ उबला आलू बेसिक मसाले ( नमक,मिर्च,हल्दी,धनिया ) के साथ भरा जाता है और उपर से उसमे मजेदार पानी भर कर इसका मजा लिया जाता है.

आज हमारे इस विडियो में हम आपको पानी-पूरी का छह अलग-अलग प्रकार का पानी और दो प्रकार की फिलिंग (भरावन) बनाना सिखा रहे है, यकीन मानिए अगर आपने ये छह पानी और दोनों फिलिंग किसी भी आयोजन में बना कर अपने परिजनों या मित्रों को खिला दिया तो उस महफिल की स्टार सिर्फ और सिर्फ आप ही होंगी.

तो जल्दी से देखिये हमारा ये विडियो और अगर आपको हमारी ये रेसिपी पसंद आये तो इसे फेसबुक और व्हाट्सएप्प पर अपने मित्रों से शेयर करना मत भूलिए.