कच्चे केले की टिक्की

कच्चे केले की टिक्की

कच्चे केले में कार्बोहाइड्रेट, रेशे, विटामिन सी एवम् विटामिन बी6 प्रचुर मात्रा में पाया जाता है. केले में पोटैशियम भी बहुतायत में पाया जाता है. कच्चे केले में पके केले के मुक़ाबले में बहुत कम शर्करा होती है. केले आमतौर पर सभी व्रतों में खाए जाते हैं. कच्चे केले से बने यह फलाहारी टिक्की स्वाद में तो लाजवाब हैं ही सेहत के लिए भी सही हैं. आप इन टिक्की को बहुत कम चिकनाई लगाकर तवे पर सेक सकते हैं. इन स्वादिष्ट टिक्की को आप फलाहारी हरी चटनी के साथ परोसें तो यह और भी स्वादिष्ट लगती हैं. तो इस बार व्रत के दिनों में आप भी बनाएँ कच्चे केले की टिक्की और कृपया अपनी राय हमें ज़रूर लिखें. : मोना

सामग्री
(16 टिक्की के लिए)
  • कच्चे केले 5-6 मध्यम
  • हरी मिर्च 4
  • सेंधा नमक 1¼ छोटा चम्मच/ स्वादानुसार
  • कटा हरा धनिया 2-3 बड़ा चम्मच
  • घी/ तेल सेकने/तलने के लिए
    बनाने की विधि :
    1. कच्चे केले को धोकर इसे बीच से दो टुकड़ों में काट लें. केले को गलने तक उबालें. मैने केले को प्रेशर कुकर में एक सीटी लेकर उबाला है.
    2. उबले केले को थोड़ा ठंडा होने दें.
    3. हरी मिर्च का डंठल हटा कर और उसे अच्छे से धो कर महीन-महीन काट लें.
    4. उबले हुए केले को छील लें. अब इसे अच्छे से मसल लें.
    5. एक कटोरे में मसले हुए केले, कटी हरी मिर्च, कटा हरा धनिया, और नमक लें और सभी सामग्री को अच्छे से मिलाएँ.
    6. अब इस मिश्रण को 16 बराबर हिस्सों में बाट लें और फिर इसको टिक्की के जैसे आकार दे लें.
    7. इन केले की टिक्की को आप 10 मिनट के लिए फ्रिज में रख दें ऐसा करने से सेकते समय टिक्की फटती नही हैं.
    8. आप इन टिक्की को सेक सकते हैं या फिर तल भी सकते हैं.
    9. टिक्की को सेकने के लिए एक तवा गरम करें. तवे में ज़रा सा घी लगाकर टली को चिकना करें अब टिक्की को दोनों तरफ से लाल होने तक सेक लें.
    10. एक पैन में घी/ तेल गरम करें. जब घी गरम हो जाए तो इसमें केले की टिक्की को गरम घी में मध्यम से तेज आँच पर लाल होने तक तल लें.
    11. तलना या सेकना आपकी इच्छा पर निर्भर करता है.
    12. स्वादिष्ट और केले की टिक्की अब तैयार हैं परोसने के लिए. आप इन स्वादिष्ट टिक्की को व्रत की चटनी के साथ भी परोस सकते हैं. आप टिक्की और चटनी के साथ अदरक की चाय या फिर दही की लस्सी भी सर्व कर सकते हैं.
कुछ नुस्खे / सुझाव
  1. केले को उबालने के तुरंत बाद गरम गरम ना मसलें बल्कि इसे थोड़ा ठंडा करेके मसलें ऐसा करने से केले चिपचिपते नही हैं और टिक्की ज़्यादा आसानी से बाँध जाती है.
  2. अगर आपको केले की टिक्की बाँधने में दिक्कत हो रही है तो आप इसमें उबले हुए आलू भी मिला सकते हैं.
  3. यह टिक्की इतनी स्वादिष्ट हैं की आप इन्हे बिना उपवास के भी बना सकते हैं. बच्चों के लंच बॉक्स में या फिर नाश्ते के लिए भी सिकी हुई केले की टिक्की अच्छा विकल्प हैं.
  4. अगर आप तीखा खाने के शौकीन हैं तो हरी मिर्च की मात्रा बढ़ा लीजिए.

मोना के इन व्रत विशेष को भी देखिये : फलाहारी थालीपीठ

मोना के इन व्रत विशेष को भी देखिये : फलाहारी भेल 

मोना के इन व्रत विशेष को भी देखिये : अरबी के फलाहारी कबाब

अगर आपको ये जानकारी अच्छी लगी हो तो आप इसे व्हाट्सएप्प और फेसबुक पर अपने मित्रों के साथ भी भी शेयर कीजिये

नियमित अपडेट पाने के लिए मोना-गुरु का फेसबुक पेज लाइक कीजिये